blogid : 318 postid : 307

सोने ने जगाया बाजार में विश्वास

Posted On: 12 Nov, 2012 बिज़नेस कोच में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

goldदेश में बढ़ती महंगाई के बावजूद त्यौहारों को देखते हुए लोगों की खरीदारी में कोई कमी नहीं देखी गई. धनतेरस के शुभ अवसर पर सोने के दाम ऊंचे होने के बावजूद लोगों ने जमकर खरीदारी की जिसकी वजह से सोने की बिक्री में 30 प्रतिशत तक उछाल दर्ज किया गया. सोने का दाम इस समय राष्ट्रीय राजधानी में 32 हजार रुपये प्रति 10 ग्राम है.


Read: नरेंद्र मोदी के प्रदेश में सबसे ज्यादा मुस्लिम पुलिसवाले


धनतेरस के दिन सोने और चांदी जैसी कीमती धातुओं की खरीदारी को शुभ माना जाता है लेकिन खरीदारों को समझ नहीं आता कि वह ऐसे मौके पर सिक्का, बार या गहना किस रूप में खरीदारी करें. ऐसे में लोगों ने आने वाले मैरेज सीजन को देखते हुए सोने और चांदी के सिक्कों के मुकाबले शादी ब्याह के लिए आभूषण के खरीदारी पर ज्यादा जोर दिया.


वैसे जानकारों की मानें तो बाजार में इतनी बड़ी उछाल की कोई उम्मीद नहीं थी. क्योंकि ऐसा माना जा रहा था कि जिस तरह से महंगाई ने लोगों की जेब पर सेंध लगाई हुई है उससे तो इस बार त्यौहार फीका रहने वाला है लेकिन धनतेरस में लोगों का उत्साह देखकर यह कहा जा सकता है कि आने वाला दो-तीन दिन बाजार के लिए सही रहेगा.


सोने की दुकानों पर ग्राहकों की भीड़ देखकर यह साफ हो गया कि सोने के दाम कितने भी ऊंचे हों इसकी मांग पर कोई असर नहीं होने वाला. दुनियाभर के सोने के 20 फीसदी की खपत भारत में होती है. पहले लोग सोने के बने गहनों के दीवाने थे लेकिन अब सोने को बेहतर सुरक्षित निवेश के रूप में देखा जाने लगा है. हाल के दिनों में सोने की लोकप्रियता उच्च परिवार से लेकर मध्यम परिवार दोनों में बढ़ी है.


Read

‘सोना’ भारतीयों की पहचान है

दिवाली पर सोने की खरीदारी में है समझदारी

केजरीवाल का खुलासा: जानिए कौन है देश का गद्दार


Tag: Gold price, Silver price, bullion market, Dhanteras gold demand, Diwali gold, festive season, त्योहारी मांग, सोना, 32000 रुपये, सोना, धन, लक्ष्‍मी, दीपावली, धनतेरस




Tags:                           

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran