blogid : 318 postid : 478

क्या है सेंसेक्स और कैसे घटता-बढ़ता है शेयर बाजार?

  • SocialTwist Tell-a-Friend

भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy) की कई खबरें हर दिन अखबारों में छाई रहती हैं. कई खबरें तो अखबारों की सुर्खियों और न्यूज चैनल्स की ब्रेकिंग न्यूज बन जाती हैं. पर अधिकतर आम नागरिक इसे समझ नहीं पाते. इसका मुख्य कारण है कि ज्यादातर लोग देश की अर्थव्यवस्था (Economy) और इससे जुड़े तथ्यों को आम जीवन से जोड़कर नहीं देख पाते. यही कारण है कि इन तथ्यों को बिजनेस की बातें समझकर हम ज्यादातर ध्यान नहीं देते हैं. हां, पर जब कोई न्यूज ब्रेकिंग न्यूज बनकर अखबारों, न्यूज चैनलों की सुर्खियों में होती है तो हम समझना जरूर चाहते हैं कि आखिर यह है क्या और इतना महत्वपूर्ण क्यों है? ऐसी ही खबरों में आजकल सेंसेक्स (Sensex) की खबर है. सेंसेक्स (Sensex) की खबरें यूं तो हर दिन होती हैं, किंतु आजकल लगभग हर अखबार और न्यूज चैनल पर इसकी खबरें प्रमुखता से आ रही हैं. रुपया गिरा तो सेंसेक्स गिरा, नारायण मूर्ति (Narayan Murthy) ने इंफोसिस (Infosys) दुबारा ज्वाइन किया तो सेंसेक्स उठा आदि. आखिर क्या है यह सेंसेक्स (Sensex) और इसके गिरने-उठने के कारण क्या हैं?


sensexसेंसेक्स (Sensex) या संवेदी सूचकांक भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy) का एक महत्वपूर्ण कारक है. सेंसेक्स (Sensex) का सामान्य अर्थ है सेंसिटिव इंडेक्स (sensitive index) या संवेदी सूचकांक. भारत में इसके अंतर्गत दो प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज मुंबई शेयर बाजार (Bombay Stock Exchange या BSE) तथा एनएसई (National Stock Exchange या NSE) आते हैं. सामान्यतया यह बीएसई (BSE) के लिए जाना जाता है. बीएसई (BSE) के अंतर्गत 30 प्रमुख भारतीय कंपनियां आती हैं. ये कंपनियां एक प्रकार से भारतीय बाजार का ट्रेंड सेट करने का काम करती हैं. सरल शब्दों में भारत की बड़ी कंपनियों के शेयरों  की कीमतों (Shares Price) को आंकने के लिए एक सूचकांक बनाया गया है जो बाजार में इन कंपनियों के शेयरों की बढ़ती-घटती कीमतों पर नजर रखता है. यही सूचकांक सेंसेक्स (Sensex) कहलाता है.

Read: टूटने वाली है कमर, तैयार रहिए- भाग 3



कैसे बढ़ते-घटते हैं शेयरों के मूल्य?

सेंसेक्स (Sensex) इसके अंतर्गत आने वाली कंपनियों के शेयरों में आए उतार-चढ़ाव पर नजर रखता है. अगर बाजार में शेयरों के मूल्य बढ़ रहे हैं तो सेंसेक्स (Sensex) बढ़ जाता है. अगर बाजार में शेयरों के मूल्य (Shares Price) गिर रहे हैं, तो सेंसेक्स (Sensex) गिर जाता है.


शेयरों की कीमतों के गिरने-उठने का महत्वपूर्ण कारण होता है कंपनी का प्रदर्शन. अगर कंपनी ने बाजार में कोई नया, बड़ा, हिट प्रोजेक्ट लांच किया, तो कंपनी के शेयरों के दाम (Shares Price) बढ़ जाते हैं. इसी प्रकार कंपनी अगर किसी क्राइसिस या मुश्किल से गुजर रही हो, तो इसके शेयर के दाम (Shares Price) घट जाते हैं. अभी कुछ दिनों पहले इंफोसिस (Infosys) के भारतीय सॉफ्टवेयर कंपनियों में दूसरे पायदान पर आने से उसके शेयरों के दाम (Shares Price) लगातार गिर रहे थे. इसी दबाव में इसके फाउंडर नारायण मूर्ति (Narayan Murthy) ने दुबारा कंपनी ज्वाइन की. लेकिन उनके ज्वाइन करते ही इंफोसिस (Infosys) के शेयर मूल्य (Shares Price) बढ़ गए. शेयरों के दाम घटना ‘सेंसेक्स में गिरावट’ कहलाता है और शेयरों के दाम (Shares Price) बढ़ना ‘सेंसेक्स में उछाल’ कहलाता है.


सेंसेक्स मापने का तरीका

जैसा कि अब आपको पता है सेंसेक्स (Sensex) के अंतर्गत रजिस्टर्ड बड़ी कंपनियों के शेयरों में उतार-चढ़ाव को मापा जाता है. जाहिर है यह कोई छोटा कैलकुलेशन नहीं होगा. इसे मापने के लिए खास विधि अपनाई जाती है, जो ‘फ्री फ्लोट मार्केट कैपिटलाइजेशन (Free Float Market Capitalisation) कहलाता है. इस प्रकार फ्री फ्लोट मार्केट कैपिटलाइजेशन (Free Float Market Capitalisation) विधि के द्वारा सेंसेक्स (Sensex) मापा जाता है.


सेंसेक्स का महत्व

शेयर बाजार किसी भी देश की अर्थव्यवस्था (Economy) के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है. यह बाजार में आवश्यक मनी फ्लो को बनाए रखता है. दूसरे शब्दों में बाजार तथा अर्थव्यवस्था (Economy) की तरलता को बनाए रखने में शेयर बाजार का अत्यंत महत्वपूर्ण योगदान है.


Read:

कागज के कुछ पन्ने कर सकते हैं मालामाल

अभी और रुलाएगी महंगाई


Tags: Sensex, Sensex in Indian Economy, Indian Economy Sensex, Indian Economy Shares Price, Shares Price in Sensex, Infosys Shares Price in Sensex, Narayan Murthy in Indian Economy, Shares Price, BSE Shares Price, NSE Shares Price, Bombay Stock Exchange Shares Price, National Stock Exchange Shares Price, सेंसेक्स, भारतीय अर्थव्यवस्था, शेयर मूल्य




Tags:                                             

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran