blogid : 318 postid : 1141938

115 जगह रूकती है यह ट्रेन, जानें भारतीय रेल से जुड़े ऐसे ही 9 रोचक तथ्य

Posted On: 25 Feb, 2016 Business,Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

रोजाना लाखों लोगों को अपने बेहतरीन सफर की बदौलत, अपनी मंजिल तक पहुंचाने वाली भारतीय रेलवे का दमदार नेटवर्क पूरी दुनिया में मशहूर है. दूसरी तरफ इस साल के रेल बजट से रेलयात्रियों को बहुत उम्मीदें हैं. देखते हैं, रेलमंत्री देशवासियों की उम्मीदों पर कितना खरा उतर पाते हैं. बहरहाल, हम आपको बताते हैं भारतीय रेलवे से जुड़े हुए रोचक तथ्य.

hi9

Read : जेल जाने से बचना है तो कभी न करें रेल में ये 10 गलतियां

सबसे तेज और धीमी चलने वाली ट्रेन नई दिल्ली- भोपाल का सफर तय करने वाली शताब्दी एक्सप्रेस भारत की सबसे तेज चलने वाली ट्रेन है. इसके अलावा नीलगिरी एक्सप्रेस भारत की सबसे धीमी चलने वाली ट्रेनों में सबसे ऊपर है.

सबसे लंबे रूट वाली ट्रेन विवेक एक्सप्रेस, डिब्रूगढ़-कन्याकुमारी के बीच चलने वाली ये ट्रेन 4,273 किलोमीटर का रूट पूरा करती है. जो कि किसी भी अन्य ट्रेन के मुकाबले कुल समय में सबसे लंबा रूट तय करती है.

बिना रूके चलने वाली और सबसे ज्यादा रूकने वाली ट्रेन

तिरूवंतपुरम- निजामुद्दीन के बीच चलने वाली राजधानी एक्सप्रेस 528 किलोमीटर की दूरी तय करती हुई वडोदरा और कोटा के बीच कहीं नहीं रूकती. जबकि हावड़ा- अमृतसर एक्सप्रेस के बीच सबसे ज्यादा स्टेशन (हॉल्ट) आते हैं. जिनकी संख्या 115 है.

सबसे कम पाबंद ट्रेन ( अक्सर लेट होने वाली)

गुवाहाटी-तिरूवंतपुरम एक्सप्रेस सबसे ज्यादा दूरी तय करने वाली ट्रेनों में से एक है. इस ट्रेन के बारे में ऐसा माना जाता है कि ये ट्रेन औसतन 10-12 घंटे हर चक्कर में लेट होती है. जबकि इसका नियमित यात्रा का समय 65 घंटे और 5 मिनट है.

‘नाम’ के अनुसार सबसे बड़े और छोटे स्टेशन सबसे बड़े रेलवे स्टेशन का नाम ‘वेंकटनरसिंहराजुवारिपेटा’ है जो कि चेन्नई में पड़ने वाला रेलवे स्टेशन है. जबकि सबसे छोटे नाम वाला रेलवे स्टेशन ‘आईबी’ है. जो कि उड़ीसा में आता है. इसके अलावा गुजरात में पड़ने वाला ‘ओडी’ रेलवे स्टेशन भी सबसे छोटे नाम वाले रेलवे स्टेशनों में शुमार है.

सबसे पुराना इंजन ( लोकोमोटिव)

भारतीय रेल में सबसे पुराना इंजन ‘फेयरी क्वीन’ है. जिसका निर्माण 1855 में हुआ था.

locomotive 1

Read : भारतीय रेल का यह स्टेशन है गाँववाले को जिम्मे

टनल ट्रैक ( सुरंग)

सबसे लम्बा टनल ट्रैक पीर पंजल है. जिसकी कुल लंबाई 11.215 किलोमीटर है. जो कि साल 2012 में जम्मू कश्मीर में पूरा हुआ है.

टॉयलेट ट्रेन ट्रेनों में लॉवर क्लास के लिए टॉयलेट की सुविधा 1909 में शुरू की गई थी. जिसको शुरू करवाने की श्रेय अखिल बाबू को जाता है.

सबसे लंबा प्लेटफॉर्म दुनिया का सबसे लंबा रेलवे प्लेटफॉर्म गोरखपुर है. जो 1.35 किलोमीटर में फैला हुआ है…Next

Read more

धरती के स्वर्ग पर बना है विश्व का सबसे खतरनाक रेलवे लाइन

ऐसे दिखेंगे भारतीय रेल के कोच, यात्री किरायों में भी हो सकती है बढ़ोत्तरी

रेलवे ट्रैक पर ही रहते हैं लोग, नहीं हुआ आज तक कोई हादसा



Tags:                           

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments




अन्य ब्लॉग

latest from jagran